Taragarh Fort Bundi History In Hindi – तारागढ़ किले की जानकारी

By | June 9, 2020

बूंदी के तारागढ़ किला का इतिहास  Taragarh Fort History In Hindi, तारागढ़ दुर्ग का निर्माण किसने करवाया

Taragarh Fort Bundi History In Hindi बूंदी के तारागढ़ किले का इतिहास राजस्थान के किलो और दुर्ग मे बहुत ही प्राचीन रहा है, तारागढ़ किले का निर्माण अजय पाल चौहान द्वारा मुगलों के आक्रमण से रक्षा करने के लिए सन 1354 ईस्वी मे किया गया था।

Taragarh Fort Bundi History In Hindi - बूंदी के तारागढ़ किले की जानकारी

उसी समय बूंदी राज्य की भी स्थापना की गयी थी बूंदी की शान इस किले को “स्टार फोर्ट” Star Fort के नाम से भी जाना जाता हैTaragarh Fort अरावली की ऊंची पहाड़ियों में से एक नागपहाड़ी पर बना एक बेहतरीन दुर्ग है। जिसे बूंदी का किला भी कहते है।

तारागढ़ दुर्ग को सन् 1832 में भारत के गवर्नर जनरल विलियम बैंटिक ने देखा तो उनके मुंह से निकल पड़ा- ”ओह दुनिया का दूसरा जिब्राल्टर” इसी कारण इस दुर्ग को “जिब्राल्टर” के नाम से भी जाना जाता है।

तारागढ़ के इस दुर्ग को  ‘राजस्थान का जिब्राल्टर राजस्थान कि कुजी’ भी कहा जाता है।  यह दुर्ग तारागढ की पहाडी पर 700 फीट की ऊँचाई पर स्थित हैं।

जिस प्रकार आसमान से तारे जमीन से बहुत ऊंचे दिखाई देते है उसी तरह तारागढ़ का यह किला धरती से तारे की तरह दिखाई देता है इसी वजह से इसे तारागढ़ के नाम से जाना जाता है।

यह किला राजस्थान के सबसे प्राचीन किलों मे से एक है और एसा कहा जाता है कि तारागढ़ किला भारत का पहला हिल फोर्ट है। तारागढ़ के इस किले मे एक दरगाह भी बनी हुआ है जो हज़रत मीरन सैयद हुसैन असग़र खंग्सवर की है।

तारागढ़ किले मे बने प्रेवेश द्वार

Taragarh Fort Bundi History In Hindi तारागढ़ किले मे प्रवेश करने के लिए तीन अलग-अलग द्वार बने हुये है जिनमे एक लक्ष्मी पोल, दूसरा फूटा दरवाजा और तीसरा गागुडी की फाटक के नाम से जाना जाता है। तारागढ़ के इस फोर्ट मे सुरंगें भी देखने को मिलती है ये सुरंगे जो कि युद्ध मे अहम भूमिका निभाती थी।

Taragarh Fort Bundi History In Hindi - बूंदी के तारागढ़ किले की जानकारी

तारागढ़ के इस किले मे एक गढ़ भी बना हुआ है जिसे भीम बुर्ज के नाम से जाना जाता है। इस गढ़ का निर्माण 16 वीं शताब्दी मे हुआ था। इस बुर्ज पर एक विशाल तोप भी रखी हुई है इस तोप को “गर्भ गुंजन” के नाम से भी जाना जाता है। 

One thought on “Taragarh Fort Bundi History In Hindi – तारागढ़ किले की जानकारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *